Wednesday, December 30, 2009

"ललकार है"सभी धर्म और मान्यता के ठेकेदार जो राजनैतिक गलियारों पर टुकड़े बटोरते फिरते है या गिने चुने दिनों पर संस्कृति के नाम पर युवा और युवतियों को लप्पड़ भन्नाटा जड़ दाईत्व की इतिश्री समझते है!




सभी धर्म और मान्यता के ठेकेदार जो राजनैतिक गलियारों पर टुकड़े बटोरते फिरते है या गिने चुने दिनों पर संस्कृति के नाम पर युवा और युवतियों को लप्पड़ भन्नाटा जड़ दाईत्व की इतिश्री समझते है उन्हें ललकार है !

मेरे एक सहयोगी ने youtube पर एक विडियो दिखाया जिसे देख वो विचलित हो उठा था ! मामला बड़ा संगीन है ,मान्यता से इतना बड़ा खिलवाड़,बात इतनी शर्मनाक है की मै उस वीडियो को embed नहीं कर रहा हूँ बस URL दे रहा हूँ जिन्हें देखना है वे इसे " पापी youtube " पर जा कर देख ले !!!
http://www.youtube.com/watch?v=dOfhC8jC73Y
http://www.youtube.com/watch?v=K8M4Onv92W8

राम के नाम पर वोट मांगने वाले और रोटी मांगने वाले... किसी की क्या नज़र नहीं पड़ी कभी ???

अब हमें ही कुछ कारगर करना होगा इसपर अतः मै निवेदन कर सहयोग की अपेछा करता हूँ आप साथियो से, क़ानूनविदों से और साइबरला के तज्ञों से कृपया सुझाव दे !

( अन्य मान्यता के लोग कृपया पृथक न हो ये आप के साथ भी हो रहा हो सकता है या हो सकता है अतः एकजुट हो , क्युकी ये आस्था और मान्यता को आहात करने वाला विषयवास्तु है )

साथियो निम्नलिखित पर मार्गदर्शन कर योगदान करे !

क्या गूगल,youtube को मजबूर किया जा सकता है इन आपत्तिजनक सामग्री पर लगाम कसने को ?
क्या इन वीडियो को किसी प्रकार से बंद किया जा सकता है ?
क्या दोषियों को चिन्हित कर उन्हें दण्डित किया जा सकता है ?
आखिर क्या कारगर रास्ता अपनाया जाए ताकि भविष्य में इस तरह का कुकृत्य कोई न कर सके ?



11 comments:

Mithilesh dubey said...

बिल्कुल सही कह रहें आप, बिल्कुल लगाम लगाया जा सकता है , जब हम एक जुट होंगे । इसके लिए सभी पक्षो को साथ बैठकर विचार विमर्श करना होगा।

पी.सी.गोदियाल said...

कुछ नहीं हो सकता, ये कोई कुरआन अथवा बाइबल नहीं है, ये कोई पैगम्बर का कार्टून नहीं है, ये हिन्दुओ की रामायण है, जिसका कोई पूछने वाला नहीं !

vimal verma said...

सौरभजी, कुछ तकनीकि दिक्कत की वजह से लिंक नहीं देख पा रहा...अब घर जाकर ही पत चल पायेगा कि आप इतना बिफ़रे हुए क्यौं हैं....वैसे सही बताऊं तो इस धर्म के पचड़े में मैं पड़ता भी नहीं हूँ......खैर और बातें बाद में ...

ab inconvenienti said...

Flag karo

Udan Tashtari said...

शिकायत तो दर्ज की जा सकती है गुगल से.

पंकज said...

आपकी चिंता से सहमत. नये माध्यमों की स्वतंत्रता का फायदा उठा कर लोग स्वछंद हो गये हैं.

sahespuriya said...

बहुत बुरी बात है .आज़ादी का मतलब किसी का मज़ाक़ उड़ाना नही होता, लानत है ऐसा वीडियो बनानेवालो पर ...

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन said...

यूट्यूब में किसी भी आपत्तिजनक विडियो को फ्लैग करने का विकल्प है. जब भी आपको ऐसा कोई विडियो दिखे तो उस विकल्प का प्रयोग करें. मैं हमेशा करता हूँ.

जी.के. अवधिया said...

मैं तो इसे फ्लैग कर आया हूँ। इसे अधिक से अधिक लोग फ्लैग करें। गूगल से अलग से भी शिकायत की जा सकती है।

अजय कुमार said...

आपका सवाल और चिंता जायज है ।

Arvind Mishra said...

यह तो सचमुच बहुत आपत्तिजनक है-घोर भर्त्सना के काबिल !